Raj Kumari Aur Rakshas | rakshas aur rajkumari ki kahani | Hindi Fairy Tales

राक्षस और राजकुमारी

एक बार एक राजकुमारी जंगल में अपनी सहेलियों के साथ जाती है और जंगल में घूमते घूमते अपनी सहेलियों से बिछड़ जाती है जंगल में अंधेरा छा जाता है राजकुमारी को कोई रास्ता नजर नहीं आता उसी समय एक राक्षस राजकुमारी के पीछे दौड़ता है और राजकुमारी भी आगे की तरफ भागती है

भागते भागते उसको एक पेड़ दिखाई देता है राजकुमारी उस पेड़ को कहती है पेड़ मुझे छुपा लो तभी पेड़ का तना खुलता है और राजकुमारी उसके अंदर चली जाती है लेकिन उसके पैर की छोटी अंगुली बाहर रह जाती है और राक्षस उसकी छोटी अंगुली को खा जाता है और कहता है अगर उंगली इतनी स्वाद होगी तो पूरा शरीर कितना स्वाद होगा फिर राक्षस वहां से चला जाता है

अगले दिन एक राजकुमार अपने मित्रों के साथ जंगल में शिकार करने को आता है और जंगल में खाना बनाने के लिए लकड़ी काटने लगते हैं जब राजकुमार के मित्र लकड़ी काटते हैं तो उस पेड़ से आवाज आती है अरे ध्यान से काटना आवाज सुनकर वह डर जाते हैं और राजकुमार के पास जाते हैं कहते हैं

कि उस पेड़ से आवाज आ रही है तब राजकुमार पेड़ के पास गया और लकड़ी काटने लगा फिर पेड़ से आवाज आई अरे ध्यान से काटना राजकुमार बहुत ही बुद्धिमान था वह पेड़ के तने के पास गया और जहां तक आवाज आ रही थी उस भाग को छोड़कर पेड़ के तने को काट दिया तब तने में से एक सुंदर राजकुमारी निकली यह देखकर राजकुमार बहुत ही हैरान हो गया और पूछे लगा तुम इस पेड़ के तने में कैसे गई तब राजकुमारी ने कहां कि

मैं राक्षस से बचते हुए पेड़ के तने में चली गई इस पेड़ ने मुझे बचा लिया तब राजकुमार ने राजकुमारी से कहा कि तुम मुझसे शादी करोगी तब राजकुमारी राजकुमार को अपने देश ले गई और माता-पिता का आशीर्वाद लेकर विवाह किया

शिक्षा:-

 अगर हम किसी की मदद करेंगे तो उसका परिणाम भी अच्छा ही होगा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!